class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शादी से लेकर गोद भराई तक- किन्नरों को समारोह में बुलाना हो तो करें ऑनलाइन बुकिंग

transgenders

घर में शादी समारोह हो या फिर किसी की गोद भरी है तो सोहर गाने के लिए किन्नरों को जल्द ही ऑनलाइन बुला सकेंगे। किन्नर कलाकारों के लिए समर्पित स्टार्टअप द नाच बाजा डॉट कॉम ऑनलाइन बुकिंग में आपकी मददगार होगी। वेबसाइट को नवंबर में लांच किया जाएगा। 

दरअसल ट्रांसजेंडरों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए उद्योग विभाग ने ‘द नाच बाजा डॉट कॉम’ स्टार्टअप खड़ा करने के लिए दोस्ताना सफर संस्था को दस लाख रुपये का फंड दिया है। दोस्ताना सफर की रेशमा प्रसाद ने बताया कि नवंबर में वेबसाइट की आधिकारिक लांचिंग होगी। इसके जरिए देश में सांस्कृतिक कार्यक्रम, शादी-विवाह और बच्चों के जन्मदिन पर होने वाले रंगारंग कार्यक्रमों के लिए किन्नर कलाकारों को बुलाया जा सकता है। 

जुड़ चुके हैं 1500 ट्रांसजेंडर

अभियान से अब तक 1500 ट्रांसजेंडर जुड़ चुके हैं। ट्रांसजेंडर कलाकार वेबसाइट से जुड़ने के लिए खुद रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। रजिस्ट्रेशन मुफ्त होगा। बुकिंग कराने के बाद उससे मिलने वाली राशि में से सौ रुपये द नाच बाजा डॉट कॉम को जाएगा। बाकी कलाकारों को मिलेगा। इसके लिए एप्लिकेशन बनाया जा रहा है। मोबाइल एप के जरिए भी कलाकारों की बुकिंग हो पाएगी। 

सभी तरह के कलाकार होंगे उपलब्ध

सभी तरह के कलाकार जैसे नर्तकी, ढोलकिया, सितारवादक, गिटारवादक आदि कलाकार उपलब्ध होंगे। राजधानी में दो सालों से किन्नर महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। किन्नर महोत्सव के जरिये ट्रांसजेंडर कला में निपुणता की धाक जमा चुके हैं। ट्रांसजेंडर समुदाय शुरू से कला के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाये हुए है। 
 
रावण वध में किन्नर करेंगी नव दुर्गा की प्रस्तुति

पटना। पटनावासियों को रावण वध के पहले गांधी मैदान में पहली बार एक साथ दुर्गा के नौ रूपों को देखने का मौका मिलेगा। यह कार्यक्रम 30 सितंबर को शाम 4 से 4.30 बजे तक दोस्ताना सफर के किन्नर कलाकार प्रस्तुत करेंगे। दशहरा कमेटी के  फाउंडर सेक्रेटरी तिलक राज गांधी कहते हैं कि पहली बार इस तरह के कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। किन्नर ग्रुप को समाज के साथ जोड़ने की कोशिश की गयी है। रावण वध होने के पहले उन्हें यह प्रस्तुति देने का मौका दिया जाएगा।

20 किन्नर रिहर्सल में जुटे

इस कार्यक्रम के लिए 20 किन्नर रिहर्सल में जुटे हैं। हर किन्नर को अपनी प्रस्तुति के लिए डेढ़ मिनट का समय होगा। दुर्गा के एक रूप में मेधा किन्नर की प्रस्तुति होगी। आक्षी मां काली के रूप में डेढ़ मिनट की प्रस्तुति देंगी तो संदीपन भैरवी का रूप धारण कर राक्षस का वध करते हुए नजर आएंगी। इस तरह दुर्गा मां के सभी रूपों की प्रस्तुति 13 मिनट में होगी। करीब 10 मिनट में ग्रुप की प्रस्तुति होगी। इस तरह कुल 25 मिनट के कार्यक्रम को मेधा लीड कर रही हैं। 

पटना हादसा:1 ही परिवार के 6 लोग गंगा में डूबे, 2 शव बरामद, CM नीतीश ने जताया शोक, VIDEO

BPSC Prelims Results: जारी हुए नतीजे, bpsc.bih.nic.in पर करें चेक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:for marriage ceremony to god bharai call transgenders by online booking
सृजन के बाद अब सहकारी समितियों पर पैनी नजरपटना हादसा:1 ही परिवार के 6 लोग गंगा में डूबे, 2 शव बरामद, CM नीतीश ने जताया शोक, VIDEO