class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एग्जीबिशन रोड की ट्रेवल एजेंसी में रेल टिकटों का फर्जी खेल

एग्जीबिशन रोड की ट्रेवल एजेंसी में रेल टिकटों का फर्जी खेल
रेल टिकटों के फर्जी खेल पर आरपीएफ की दबिश जारी है। इसी क्रम में राजधानी के एग्जीबिशन रोड में आरपीएफ ने 28 रेल टिकटों के साथ दो एजेटों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए दो दलाल जयंत बगारिया व जयेश कुमार के पास से कई महत्वपूर्ण ट्रेनों के तत्काल टिकट बरामद किए गए हैं। दलालों के पास से 16 क्रेडिट कार्ड, 33 फर्जी आईडी कार्ड व डेढ़ लाख रुपए बरामद किए गए हैं। पकड़े गए दलालों पर मामला दर्ज कर उनसे पूछताछ जारी है। राजधानी व संपूर्ण क्रांति की तत्काल टिकटें बरामद छापेमारी के दौरान आरपीएफ के अफसर तब चकित रह गए जब दलालों के पास राजधानी व संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस की कई तत्काल टिकटें बरामद की गईं। बिना लाइसेंस के चल रहे इस ट्रेवल एजेंसी के संचालक जयंत ने बताया कि वह तत्काल टिकट काटने के समय में ऑनलाइन व्यवस्था में गड़बड़ी कर लाखों की कमाई करता था। पिकआवर में वह एक-एक टिकटों के लिए पांच से छह हजार की वसूली करता था। रेल सुरक्षा बल ने मुंबई एलटीटीई एक्सप्रेस, हावड़ा राजेन्द्रनगर एक्सप्रेस, मगध एक्सप्रेस ट्रेनों के 26 तत्काल व दो सामान्य आरक्षण की टिकटें बरामद की हैं। योजना बनाकर छापेमारी रेल सुरक्षा बल के अधिकारियों को दो दिन पहले सूचना मिली थी कि एग्जीबिशन रोड के एक ट्रेवल एजेंसी में फर्जी तरीके से टिकटों की व्यापक तौर पर कालाबाजारी हो रही है। कमांडेंट ने इस सूचना के बाद सहायक कमांडेंट व राजेन्द्रनगर के आरपीएफ पोस्ट प्रभारी को मामले का पता लगाने को कहा। दो दिनों तक गतिविधियों पर नजर रखने के बाद मामले का सच जाना। इधर, सोमवार को एक विशेष टीम गठित कर साढ़े दस बजे दल-बल के साथ छापेमारी में टिकटों के फर्जीवाड़े के खेल का पर्दाफाश हुआ। छापेमारी के बाद ट्रेवल एजेंसी को सील कर दलालों से पूछताछ जारी है। एक महीने में रेल सुरक्षा बल को तीसरी बड़ी कामयाबी मिली है। इससे पहले राजीव नगर व स्टेशन रोड में दो एजेंसियों में दलालों को दबोचा जा चुका है। फर्जी आधार कार्ड बनाने का धंधा सिद्धार्थ टूर एंड ट्रेवल एजेंसी में रेल टिकटों के साथ फर्जी आईडी कार्ड भी बनता था। दलालों के पास फर्जी आधार कार्ड व फर्जी दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। शार्टनेम का इस्तेमाल कर तत्काल टिकट निकालने के बाद दलाल यात्रियों को फर्जी आईडी कार्ड बनाकर भी वसूली करते थे। इससे पहले राजधानी के दो ठिकानों पर ऐसे ही धंधे का पर्दाफाश हुआ था। कोट : रेल टिकटों की कालाबाजारी कर रहे दलालों पर नजर रखी जा रही है। राजधानी के विभिन्न इलाकों में कई गिरोह सक्रिय हैं जो फर्जी तरीके से टिकट बना रहे हैं। रेल राजस्व व आम यात्रियों को नुकसान पहुंचा रहे दलालों पर कार्रवाई जारी रहेगी। - चंद्रमोहन मिश्रा, दानापुर के सीनियर डिविजनल सिक्योरिटी कमांडेंट
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Brief news
मुख्यमंत्री ने परिपक्वता का परिचय दिया : पप्पू यादवबिहार के 242 विधायकों ने डाले वोट