class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएसएससी इंटर स्तरीय परीक्षा पर फिर संशय, साढ़े 18 लाख छात्रों की होनी है परीक्षा

sanjeevkumarbssc

बिहार कर्मचारी चयन आयोग (बीएसएससी) की इंटर स्तरीय परीक्षा समय से होने पर संशय खड़ा हो गया है। यह आशंका आयोग के पास अपना स्ट्रांग रूम नहीं होने के कारण उठ रही है। उसके पास अपनी कोई व्यवस्था नहीं जहां ओएमआर शीट, प्रश्न पत्र अथवा अन्य कोई अति गोपनीय फाइल रखी जा सके।

आयोग की परीक्षाओं के लिए पहले बिहार कंबाइंड इंट्रेंस कम्पटिटिव एग्जामिनेशन बोर्ड (बीसीईसीई) के स्ट्रांग रूम का इस्तेमाल होता था लेकिन इस बार बीसीईसीई ने स्ट्रांग रूम देने से इंकार कर दिया है। ऐसे में आयोग के सामने यह समस्या आ गई है कि जिलों से ओएमआर शीट से भरकर आने वाले बक्से कहां रखे जाएंगे।

आठ हजार से अधिक होंगे बक्सेः बीएसएससी की ओर से परीक्षा के लिए सभी जिलों के डीएम द्वारा नियुक्त नोडल पदाधिकारियों की बैठक 20 सितंबर को बुलायी गयी है। इस बैठक में अक्टूबर और नवंबर में परीक्षा की संभावित तिथि पर विचार किया जाएगा। परीक्षा केन्द्रों के बारे में जानकारी भी मांगी गयी है। आयोग सूत्रों का ही कहना है कि स्ट्रांग रूम की व्यवस्था नहीं होने के कारण परीक्षा तिथि तय होने में संदेह है। इस परीक्षा के लिए 18.50  लाख परीक्षार्थियों ने आवेदन किया है। बैठक में ओएमआर शीट के बक्सों की सुरक्षा पर भी चर्चा होगी।

उल्लेखनीय है कि फरवरी में पेपर लीक होने के कारण परीक्षा रद्द कर दी गई थी। तब चार चरण में परीक्षा के लिए राज्यभर में 742 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। एक केन्द्र से प्रत्येक चरण में तीन से चार बक्से आते हैं। चार चरणों की परीक्षा के बाद अगर बक्सों की संख्या जोड़ी जाए तो 8 हजार से ज्यादा हो जाएगी।

इतनी संख्या में बक्से कहां रखे जाएंगे। इसका इंतजाम नहीं हो सका है।  फरवरी में पेपर लीक प्रकरण के बाद बीएसएससी के पूर्व अध्यक्ष और सचिव की गिरफ्तारी हुई थी। दोनों अभी भी जेल में हैं। इस कारण वर्तमान अफसर भी फूंक-फूंक कर कदम रख रहे हैं। परीक्षा में देरी के लिए इसे भी कारण माना जा रहा है। 

इन पदों के लिए परीक्षाएं होनी बाकी

स्टेनोग्राफर, कनीय अभियंता, यूनानी मिश्रक, आयुर्वेदिक मिश्रक, नगर प्रबंधक, वरीय वैज्ञानिक सहायक, अम्बेदकर आवासीय विद्यालय के लिए शिक्षक, स्वच्छता निरीक्षक, ईजीसी टेक्निशियन, लैब टेक्निशियन, ओटी अस्सिटेंट सहित कई की परीक्षा होनी है। 

इनका रिजल्ट है लंबित 

एएनएम, द्वितीय स्नातक स्तरीय परीक्षा, कृषि समन्वयक, लैब टेक्निशियन, ओटी अस्सिटेंट आदि। 

बीएसएससी अध्यक्ष संजीव सिन्हा ने कहा कि, "अक्टूबर-नवंबर में परीक्षा कराने पर विचार किया जा रहा है। हालांकि अभी स्ट्रांग रूम की व्यवस्था नहीं हो सकी है। इसके लिए सरकार को पत्र लिखा जा रहा है। परीक्षा केंद्र और केंद्राधीक्षक भी जांच-पड़ताल के बाद ही रखे जाएंगे। तभी परीक्षा की तिथि घोषित होगी।"

शादी से गोद भराई तक-किन्नरों को समारोह में बुलाना हो तो करें ऑनलाइन...

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bihar ssc exam dates still to be decided says chairman sanjeev sinha
मोकामा हादसे के पीड़ित परिवार से सीएम ने की बातहिन्दी का अधिक से अधिक प्रयोग करें : मंत्री