class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीसीईसीई की परीक्षा में पिछड़े वर्ग के छात्रों का जलवा

सामाजिक परिवर्तन का असर शिक्षा के क्षेत्र में दिखने लगा है। इसका व्यापक असर देखने को मिल रहा है। समाज के पिछड़े वर्ग से आने वाले छात्र-छात्राओं का रिजल्ट बेहतर होने लगा है। इसका बड़ा उदाहरण राज्य के बड़े प्रतियोगिता परीक्षा में देखने को मिल रहा है। इसके अलावा अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं में बेहतर रिजल्ट होने लगा है। बीसीईसीई द्वारा राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों, पारा मेडिकल और एग्रीकल्चर कॉलेजों में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा ली गई थी। इस प्रवेश परीक्षा को अलग-अलग श्रेणियों में बांटा गया था। इन तीनों श्रेणियों की परीक्षा में पिछड़े वर्ग के छात्रों का रिजल्ट शानदार रहा है। बीसीईसीई के द्वारा पीसीएम, पीसीबी, सीबीए के तीन अलग-अलग ग्रुप का रिजल्ट निकाला गया। इनमें कुल टॉपरों की संख्या 15 है, इसमें 10 पिछड़े वर्ग के हैं। इसबार परीक्षा में थोड़ा विलंब होने की वजह से एक ही प्रवेश परीक्षा के आधार पर फाइनल रिजल्ट निकाल दिया गया। ताकि समय पर छात्रों का रिजल्ट जारी हो सके। पीसीएम ग्रुप टॉप फाइव चार पिछड़े वर्ग से शामिल बीसीईसीई की ओर से पीसीएम ग्रुप का जो रिजल्ट जारी किया गया है। इसमें पहला स्थान प्राप्त करने वाले छात्र आशीष कुमार अत्यंत पिछड़ा वर्ग से हैं। इस छात्र को 608 अंक हासिल हुआ है। इसी ग्रुप में तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले छात्र चंदन कुमार भी अत्यंत पिछड़ा वर्ग से हैं। इसी तरह से अमित कुमार व अमृत राज दोनों पिछड़ा वर्ग से हैं। टॉप फाइव में चार पिछड़े वर्ग से है। पीसीबी ग्रुप में टॉप फाइव में पिछड़ा वर्ग से तीन छात्र इसी तरह से बीसीईसीई की ओर से जारी रिजल्ट में पीसीबी ग्रुप में टॉप फाइव में तीन पिछड़े वर्ग के छात्रों ने जगह बनाई है। इसमें दूसरा, तीसरा और पांचवां स्थान पर पिछड़े वर्ग के छात्रों को प्राप्त हुआ है। इस ग्रुप में पहला स्थान सामान्य श्रेणी के छात्र को प्राप्त हुआ है पर इससे सिर्फ 17 मार्क्स पीछे आरक्षित श्रेणी का छात्र रहा है। सीबीए ग्रुप में तीन छात्र पिछड़े वर्ग से शामिल इसी तरह से एग्रीकल्चर कोर्स में दाखिले के लिए एक नया ग्रुप बनाया गया था। इसमें कैमेस्ट्री, बॉयोलॉजी और एग्रीकल्चर को रखा गया था। इस ग्रुप में भी पिछड़े वर्ग के छात्रों का जलवा रहा है। पहला स्थान पिछड़े वर्ग के छात्र लाल बहादुर सिंह को हासिल हुआ है। इस छात्र को कुल 370 अंक हासिल हुए हैं। इसी तरह से चौथा और पांचवां स्थान क्रमश: राम बाबू राय और ऋषि ठाकुर को प्राप्त हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BCECE Examination
गोड्डा से अपहृत शिक्षक डाकबंगला से बरामदट्रैक्टर नहीं मिलने से कचरा उठाव बाधित