class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वोटिंग समय से 70 मिनट पहले ही लगने लगी थी कतार

राष्ट्रपति चुनाव में वोट डालने के प्रति विधायकों का पूरा उत्साह दिखा। वोट डालने का समय सुबह दस बजे से था, लेकिन इसके 70 मिनट पहले से 8.50 बजे ही विधायकों की कतार लगनी शुरू हो गई थी। साढ़े तीन घंटे में सभी वोट पड़ गये। वोट देने पहले पहुंचने वालों में कई मंत्री भी थे। सुबह साढ़े नौ बजे तक लंबी कतार लग गयी थी। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने वोटिंग शुरू होने के करीब दो घंटे बाद अपना वोट डाला। सुबह साढ़े नौ बजे तक मद्य-निषेध,निबंधन एवं उत्पाद मंत्री अब्दुल जलील मस्तान, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफूर, श्रम संसाधन मंत्री विजय प्रकाश और पर्यटन मंत्री अनिता देवी कतार में लग चुकी थी। महिला विधायकों में जदयू की पूनम यादव ने सबसे पहले वोट डाला। कतार और लंबी होती देख विधायकों को सलाह दी गई कि वे प्रतीक्षालय में जाकर बैठें, कतार छोटी होने पर उन्हें बुलाया जाएगा। पार्टियों के सीनियर नेता लेते रहे पल-पल की जानकारी वोटिंग शुरू होते हीं सभी पार्टियों के सीनियर नेता वहां पर पल-पल की जानकारी ले रहे थे। कौन विधायक आये और कौन नहीं पहुंचे हैं, इस पर नजर रखे हुए थे। सभी विधायक वोट डाल दिये, यह सुनिश्चत होने तक वहीं डटे रहे। उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव विधानसभा के अपने चैंबर में बैठकर जानकारी ले रहे थे कि राजद के कौन-कौन विधायक वोट दिये और कौन नहीं दिये। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी खुद अपनी पार्टी के विधायकों की सूची लेकर बैठे हुए थे। जो विधायक वोट डाल देते, उनके नाम के आगे वे टिक कर देते। जो विधायक नहीं आये, उनसे बात हो रही है कि नहीं। बात हुई तो वे क्या बता रहे हैं? अब-तक पहुंचे क्यों नही? इन सब की जानकारी वे ले रहे थे। भाजपा के सुशील मोदी नेता विपक्ष प्रेम कुमार के चैंबर में बैठकर पूरी जानकारी ले रहे थे। सभी विधायकों का वोट हो गया, यह सुनिश्चित करने के बाद ही वे वहां से गये। जदयू के वरीय नेता और संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार स्वयं अपने चैंबर में बैठकर वोटिंग की गतिविधि पर नजर रखे हुए थे। वे सुबह में साढ़े आठ बजे ही पहुंच गये थे और सभी विधायकों के वोट करने के बाद तक वहां रुके रहे। विधानसभा के कॉरिडोर में टिकारी विधायक अभय कुमार सिन्हा और बाजपट्टी विधायक रंजु गीता को जिम्मेदारी मिली थी कि जदयू के कौन-कौन विधायक पहुंचे, इसकी जानकारी लें। जो विधायक पहुंच रहे थे, उनसे हस्ताक्षर भी लिया जा रहा था। जेल से पहुंचे राजबल्लभ यादव नवादा से राजद विधायक राजबल्लभ यादव बिहारशरीफ जेल से अपना वोट डालने आये थे। वे एक मामले में जेल में बंद हैं।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:70 minutes before the voting time began to queue
बिहार के 242 विधायकों ने डाले वोटबस दुर्घटना में घायलों के उपचार के लिए जम्मू पहुंचे बिहार सरकार के अधिकारी