class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मधेपुरा: शादी का भोज खाना पड़ा महंगा, चार सौ लोग बीमार

food poisoning case in madhepura

थाना क्षेत्र के टोका जिवछपुर गांव में रविवार की रात शादी समारोह का भोज खाने से बाराती और सराती दोनों पक्ष के करीब चार सौ लोग फूड प्वायजनिंग के शिकार हो गये। बीमार हुए इन सभी को देर रात ही सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। इतने लोगों के एक साथ बीमार होने से गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पर देर रात ही डीएम मो. सोहैल, एसपी विकास कुमार, सीएस डॉ. गदाधर पांडेय ने अस्पताल पहुंचकर मरीजों का फौरन इलाज शुरू कराया। सदर अस्पताल में 183 मरीजों के अलावा पीएचसी गम्हरिया और घैलाढ़ में भी बीमार लोगों को भर्ती कराया गया। सबकी स्थिति खतरे से बाहर बतायी जा रही है।

टोका गांव के कोमल चौहान की दो बेटियों की रविवार की रात शादी थी। जिले के ही बलुवाहा और कजरा दोनों गांवों से उनके घर बारात आयी थी। दो बेटियों की शादी के मौके पर पूरे गांव का भोज था। रात 11 बजे बारात उनके घर पहुंची। गांव के लोगों का पहले से ही भोज चल रहा था। स्वागत-सत्कार के बाद बारात का भी खान-पान शुरू हुआ। इस बीच विवाह की रस्म भी चलती रही। देर रात करीब 12.30 बजे के बाद से एक के बाद करीब चार सौ लोग बीमार हो गये।

पूरे गांव में अफरा-तफरी मच गयी। लोगों ने बस और एंबुलेंस से मरीजों को अस्पताल पहुंचाया। बीमार लोगों में आठ माह के बच्चे से लेकर 55 साल तक के महिला-पुरुषों के अलावा एक दूल्हा घैलाढ़ प्रखंड के बलुआहा गांव के दिलीप कुमार शर्मा भी शामिल था। अस्पताल में एक साथ काफी संख्या में मरीजों के पहुंचने से अफरा-तफरी की स्थिति हो गयी। 

सीएस डॉ. गदाधर पांडेय ने बताया सभी मरीजों का इलाज किया जा रहा है। सबकी स्थिति खतरे से बाहर है। इलाज के लिए पर्याप्त मात्रा में दवाइयां उपलब्ध हैं। डॉक्टरों की दो टीमें गांव भेजी गयी है। खाद्य सामग्रियों के संपल भी लिये गये हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:four hundred people got victim of food poisoning due to Wedding banquet in madhepura