class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

16 जून को सामने आएगी नई फॉक्सवेगन पोलो

जर्मन कार कंपनी फॉक्सवेगन ने घोषणा की है कि वह 16 जून को बर्लिन में होने वाले एक इवेंट के दौरान नई पोलो की जानकारियां साझा करेगी, इसके प्रोडक्शन वर्जन को सितम्बर में होने वाले फ्रैंकफर्ट मोटर शो-2017 के दौरान दुनिया के सामने पेश किया जाएगा।

कुछ दिनों पहले कंपनी ने यू-ट्यूब चैनल पर नई पोलो की टीज़र इमेज़ दिखाई थी, इस में कंपनी ने दिखाया कि 1975 में आई पोलो किस तरह समय के हिसाब से अपडेट हुई। इन 42 सालों में कंपनी ने पोलो की दुनियाभर में 1.40 करोड़ से ज्यादा यूनिट बेची। cardekho.com के मुताबिक अब कंपनी छठवीं जनरेशन की पोलो लेकर आ रही है, संभावना है कि यह पहले से ज्यादा बड़ी या लंबी होगी, इस वजह से केबिन में पहले से ज्यादा जगह मिलेगी, मौजूदा पोलो की सबसे बड़ी कमी केबिन में कम जगह का होना है। नई पोलो पहले से 70 किलोग्राम तक कम वज़नी होगी, इस वजह से इसके माइलेज में भी इजाफा होगा।

नई पोलो को कई बार टेस्टिंग के दौरान भी देखा जा चुका है, इसी साल की शुरूआत में बिना कवर की हुई नई पोलो को देखा गया था, जैसा कि उम्मीदें थीं इसका डिजायन पहले जैसा ही है हालांकि इसमें कुछ नए बदलाव भी हुए हैं।

जहां तक बात इसके इंजन की है अंतरराष्ट्रीय बाजार में नई पोलो में 1.0 लीटर टीएसआई, 1.5 लीटर टीएसआई और 1.6 लीटर टीडीआई इंजन का विकल्प मिलेगा। इसके परफॉर्मेंस वेरिएंट जीटीआई में 2.0 लीटर का टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन मिलेगा, जो करीब 200 पीएस की पावर देगा।

भारतीय कार बाजार को लेकर कंपनी का कहना है कि वह यहां सबसे पहले नई पसात को उतारेगी, अगर फॉक्सवेगन नई पोलो को भारत में लाने का विचार बनाती है तो सबसे पहले कंपनी को इसकी लंबाई और इंजन को टैक्स कैटेगरी के हिसाब से तैयार करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:New volkswagen Polo unveil on June 16