Vastu Shastra in Hindi, Vastu for Home, Vastu Tips, वास्तुशास्त्र- गृह निर्माण
  • शादी हर लड़का-लड़की की ज़िंदगी का अहम हिस्सा होती है। इसके साथ ही दोनों की जिंदगी में नया मोड़ आने लगता है। वास्तुशास्त्र में कहा जाता है कि नव विवाहित जोड़ों को शादी के बाद कुछ काम नहीं करने चाहिए।

  • वास्तुशास्त्र में हर पौधे के लिए एक दिशा निर्धारित है। अगर सही दिशा में पौधा लगाया जाए तो उससे घर में सुख-शांति आदि आती है। वहीं गलत दिशा में लगाए पौधे फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकते हैं।

  • 1. मान-सम्मान, प्रतिष्ठा व लक्ष्मी प्राप्ति के लिए किए जाने वाली पूजा, उपाय/टोटकों के लिए पश्चिम दिशा की ओर मुख करके बैठना शुभ होता है। 2. गुरु ग्रह को सौभाग्य, सम्मान और समृद्धि नियत करने वाला मान

  • हर व्यक्ति जीवन में बड़ा आदमी बनना चाहता है लेकिन कई बार अज्ञानता के कारण वह उस मुकाम तक नहीं पहुंच पाता, जहां तक वह पहुंच सकता है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं लेकिन वे क्या कारण हैं यह जानना जरूरी

  • नमक का इस्तेमाल तो हम खाने में करते ही है। वहीं वास्तु शास्त्र में कहा जाता है कि नमक के कुछ उपाय से घर की नकारात्मक उर्जा दूर होती है। इसे नजर दोष उतारने के ल‌िए भी काम में लिया जाता है।

  • नींबू जहां सेहत के लिए फायदेमंद होता है, वहीं ज्योतिषशास्त्र में नींबू का इस्तेमाल नजर उतारने के लिए तो किया जाता ही है। वैसे ही नींबू वास्तु दोष भी कम करता है। कहा जता है कि नींबू का पौधा घर में मौजू

  • हर किसी के घर में भगवान की मूर्तियां और तस्वीर होती ही हैं। लेकिन सभी मूर्ति शुभ प्रभाव देने वाली नहीं होती। वास्तु के अनुसार कई मूर्तियां ऐसी भी होती हैं, जिनके दर्शन करना मनुष्य के लिए अशुभ...

  • एक्वेरियम में तैरती मछलियां घर में शांती लाती है। वैसे ही घर में पालतु जानवर रखना बहुत शुभ होता है। ये जानवर भी आपकी आर्थिक स्थिति, मानसिक परेशानी आदि का प्रभावित करते हैं।

  • जी-जान से मेहनत करने के बाद भी कार्यक्षेत्र में सफलता नहीं मिल रही या घर में तमाम जतन के बाद भी सुख शांति का वास नहीं हो पा रहा। वास्तु में बताया गया है कि ऐसे कई संकेत हैं जो हमें बताते हैं कि हमारे

  • सफलता किसे नहीं चाहिए। नौकरी हो या व्यापार, परीक्षा हो या इंटरव्यू हर कोई सफल होना चाहता है। सफलता पाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी मेहनत है। किस्मत भी सफलता में अहम स्थान रखती है। पूरी लगन और मेहनत के स

  • आपके घर या आसपास अगर नकारात्मक ऊर्जा है तो सावधान हो जाएं। यह आपकी अच्छी भली सेहत को भी प्रभावित कर सकती है। सेहत को सबसे बड़ी पूंजी माना जाता है। अपने घर और अपने आसपास हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का प

  • घर बनाते वक्त वैसे तो हम कई चीजों का ध्यान रखते है। वास्तु का भी ध्यान रखना इसके लिए बहुत जरूरी है। वास्तुशास्त्र के अनुसार घर बनाते समय हमें घर की दिशा, दीवारों के रंग आदि का ख्याल रखना चाहिए।