मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 12:54 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
ललित मोदी प्रकरण और व्यापमं घोटाले पर कांगे्रस सदस्यों के हंगामे और नारेबाजी के कारण आज राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित।सुषमा स्वराज, वसुंधरा राजे और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता। भाजपा संसदीय दल उनके साथ है: नकवीराज्यसभा 12 बजे तक के लिए स्थगितयादव सिंह मामले में सीबीआई ने दो केस दर्ज किए, नोएडा, ग्रेटर नोउडा, आगरा और फिरोजाबाद में 14 ठिकानों पर छापेमारी।बिहार: हाजीपुर-पटना हाईवे पर पानहाट के समीप किसी वाहन के धक्के से दो पुलिसकर्मियों की मौत, मरने वालों का नाम आनंद बिहारी और नरेंद्र सिंहअमरोहा के हसनपुर में रहरा अड्डे पर स्थित परचून की दुकान के ताले तोड़कर चार लाख का सामान समेटा, पुलिस मौके पर

साध्वी प्राची ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी पर हमला बोला और कहा कि वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनके नेतृत्व में पार्टी 50 सीटें भी हासिल नहीं कर पाएगी।

पोर्न वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के निर्णय का ट्विटर पर खूब मजाक उड़ाया गया और सोमवार को ट्विटर की ट्रेंड लिस्ट में यह मुद्दा सबसे ऊपर रहा।

केंद्र सरकार ने सोमवार को यह स्पष्टीकरण दिया है कि वह भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की नीतिगत दर तय करने की आजादी कम नहीं करना चाहती।

चिंगलेनसाना सिंह और एसवी सुनील के शानदार गोलों की मदद से यूरोप दौरे पर आई भारतीय हॉकी टीम ने सोमवार को खेले गए पहले टेस्ट फ्रांस को 2-0 से हरा दिया।

आतंकी संगठन आईएसआईएस और अमेरिका की जंग से एक ओर मध्य पूर्व देश तबाह हो रहे हैं, तो दूसरी ओर अमेरिकी कंपनियों के लिए यह खूनी युद्ध सोने की खान साबित हो रहा है।

इराक और सीरिया में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के लिए सात भारतीय लड़ रहे हैं, जबकि छह मारे जा चुके हैं।

एक सितंबर से तत्काल टिकट की बुकिंग कराते समय रिजर्वेशन स्लीप के साथ आईडी कार्ड की फोटोकॉपी देने की मजबूरी नहीं होगी। रेलवे बोर्ड ने सभी जोनल अधिकारियों को इस बाबत निर्देश जारी किए हैं।

मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार को पांच और प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज की।

दिल्ली
एन सी आर
लखनऊ
कानपुर
इलाहाबाद
वाराणसी
आगरा
मेरठ
गोरखपुर
बरेली
मुरादाबाद
अलीगढ़
पटना
भागलपुर
मुजफ्फरपुर
रांची
जमशेदपुर
धनबाद
देहरादून
'हमें मिल जाए पुलिस, तो रात में भी घूम सकेंगी खूबसूरत महिलाएं'
दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती ने यह कहकर...
दिल्ली में पांच लाख का ईनामी मोस्ट वांटेड नक्सली गिरफ्तार
दिल्ली पुलिस ने सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में झारखंड के...
महिला सुरक्षा के लिए जांच आयोग बनेगा
दिल्ली विधानसभा ने सोमवार को महिला सुरक्षा के लिए जांच...
दिल्ली सरकार के प्रधान सचिव की तफ्तीश होगी
भ्रष्टाचार निरोधक शाखा ने केजरीवाल सरकार के प्रधान सचिव (शहरी...
केजरीवाल ने शीर्ष पुलिस अधिकारियों को कहा, मोदी का एजेंट
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को दिल्ली के...
अरविन्द केजरीवाल को हाईकोर्ट से राहत मिली
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के लोकसभा चुनाव में भड़काऊ...
एलएनजेपी ने सिविल सेवा के चार उम्मीदवारों को तकनीकी सेवा के लिए अनफिट माना
लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी) ने सिविल सेवा परीक्षा में...
मकान मालिक की लापरवाही से बच्ची की मौत, आरोपी फरार
उत्तर दिल्ली के बुराडी इलाके में मकान मालिक की लापरवाही...
  • कभी अलविदा ना कहना...

    मध्य प्रदेश के खंडवा में 4 अगस्त 1929 को मध्यवर्गीय बंगाली परिवार में अधिवक्ता कुंजी लाल गांगुली के घर जब सबसे छोटे बालक ने जन्म लिया, तो कौन जानता था कि आगे चलकर यह बालक अपने देश और परिवार का नाम रोशन करेगा।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    भाई बहनों में सबसे छोटे नटखट आभास कुमार गांगुली उर्फ किशोर कुमार का रुझान बचपन से ही पिता के पेशे वकालत की तरफ न होकर संगीत की ओर था।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    महान अभिनेता एवं गायक केएल सहगल के गानों से प्रभावित किशोर कुमार उनकी ही तरह के गायक बनना चाहते थे। सहगल से मिलने की चाह लिये किशोर कुमार 18 वर्ष की उम्र में मुंबई पहुंचे, लेकिन उनकी इच्छा पूरी नहीं हो पायी। उस समय तक उनके बड़े भाई अशोक कुमार बतौर अभिनेता अपनी पहचान बना चुके थे।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    अशोक कुमार चाहते थे कि किशोर नायक के रुप मे अपनी पहचान बनाये, लेकिन खुद किशोर कुमार को अदाकारी की बजाय प्लेबैक सिंगर बनने की चाह थी। जबकि उन्होंने संगीत की प्रारंभिक शिक्षा कभी किसी से नहीं ली थी। जबकि बॉलीवुड में अशोक कुमार की पहचान के कारण उन्हें बतौर अभिनेता काम मिल रहा था।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    अपनी इच्छा के विपरीत किशोर कुमार ने अभिनय करना जारी रखा। जिन फिल्मों में वह बतौर कलाकार काम करते थे, उन्हे उस फिल्म में गाने का भी मौका मिल जाया करता था। किशोर कुमार की आवाज सहगल से काफी हद तक मेल खाती थी। बतौर गायक सबसे पहले उन्हें वर्ष 1948 में बाम्बे टाकीज की फिल्म जिद्दी में सहगल के अंदाज मे हीं अभिनेता देवानंद के लिये मरने की दुआएं क्यूं मांगू गाने का मौका मिला।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    किशोर कुमार ने वर्ष 1951 मे बतौर मुख्य अभिनेता फिल्म आंदोलन से अपने करियर की शुरुआत की, लेकिन इस फिल्म से दर्शकों के बीच वह अपनी पहचान नहीं बना सके। वर्ष 1953 मे प्रदर्शित फिल्म लड़की बतौर अभिनेता उनके करियर की पहली हिट फिल्म थी। इसके बाद बतौर अभिनेता भी किशोर कुमार ने अपनी फिल्मों के जरिये दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    किशोर कुमार ने 1964 मे फिल्म दूर गगन की छांव में के जरिये निर्देशन के क्षेत्र मे कदम रखने के बाद हम दो डाकू, दूर का राही, बढ़ती का नाम दाढ़ी, शाबास डैडी, दूर वादियों मे कही, चलती का नाम जिंदगी और ममता की छांव मे जैसी कई फिल्मों का निर्देशन भी किया।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    निर्देशन के अलावा उन्होंने कई फिल्मों मे संगीत भी दिया जिनमें झुमरू, दूर गगन की छांव में, दूर का राही, जमीन आसमान और ममता की छांव मे जैसी फिल्मे शामिल है। बतौर निर्माता किशोर कुमार ने दूर गगन की छांव में और दूर का राही जैसी फिल्में भी बनाई।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    किशोर कुमार को अपने करियर में वह दौर भी देखना पड़ा, जब उन्हें फिल्मों में काम ही नहीं मिलता था। तब वह स्टेज पर कार्यक्रम पेश करके अपना जीवन यापन करने को मजबूर थे।

  • कभी अलविदा ना कहना...

    किशोर कुमार को उनके गाये गीतों के लिये 8 बार फिल्मफेयर पुरस्कार मिला। किशोर कुमार ने अपने पूरे फिल्मी करियर मे 600 से भी अधिक हिंदी फिल्मों के लिये अपना स्वर दिया। उन्होंने बंगला, मराठी, गुजराती, कन्नड, भोजपुरी और उड़िया फिल्मों में भी अपनी दिलकश आवाज के जरिये श्रोताओं को भाव विभोर किया। 13 अक्टूबर 1987 को किशोर कुमार को दिल का दौरा पड़ा और वह इस दुनिया से विदा हो गये।

ImageLoading इंडिया इंटरनेशनल जूलरी वीक ImageLoading कांग्रेस के 25 सांसद निलंबित ImageLoading नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन ImageLoading ये है कोहली का मास्टर प्लान
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
राशिफल
जोक्स
Image Loading

पागल की बच्ची

बीवी ने शोहर का मोबाइल देखा, फ़ोन बुक में लड़कियों के नाम यूं सेव थे,
.
पड़ोसन की बच्ची,
.
न्यू बच्ची,
.
पुरानी बच्ची,
.
सामने वाली बच्ची,
.
ऊपर वाली बच्ची,
.
कॉलेज वाली बच्ची,
.
इंसोरेंस वाली बच्ची,
.
हॉस्पिटल वाली बच्ची,
.
.
.
बीवी को excitement हुई कि मेरा number किस नाम से save होगा ?
.
बीवी ने अपना number डायल किया तो लिखा था,
.
.
पागल की बच्ची

 

photo
कभी अलविदा ना कहना...

photo
हैप्पी बर्थडे मनीष

photo
म्यूज़िक लॉन्च पर सितारों की मस्ती

photo
इवेंट में दिखा अनुष्का का जलवा

अब अक्सर नज़र आऊंगी बड़े पर्दे पर: ऐश्वर्या राय
Image Loading
पूर्व विश्वसुंदरी एवं फिल्म अभिनेत्री ऐश्वर्य राय बच्चन पांच सालों के लंबे अंतराल बाद निर्देशक संजय गुप्ता की फिल्म 'जज्बा' से बड़े पर्दे पर वापसी कर रही हैं।
 
FILM REVIEW : 'दृष्यम' जो दिखे सच वही तो नहीं
Image Loading
आपने अक्सर सुना होगा कि धूम स्टाइल में चोरी करने वाला एक चोर पकड़ा गया। या फलां जेल से भागे कैदियों को सुरंग का आइडिया एक अंग्रेजी फिल्म से मिला था।
 
यूपी में अब दलित बेच सकेंगे गैर दलितों को अपनी जमीन
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमण्डल की बैठक मंगलवार की सुबह हुई जिसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गए।
 
Image Loading आईएस की जंग में मालामाल हो रहीं हैं अमेरिकी कंपनियां
आतंकी संगठन आईएसआईएस और अमेरिका की जंग से एक ओर मध्य पूर्व देश तबाह हो रहे हैं, तो दूसरी ओर अमेरिकी कंपनियों के लिए यह खूनी युद्ध सोने की खान साबित हो रहा है।
 
भारत का आत्म-विश्वास इतना मजबूत हो गया है कि वह संवेदनशील मसलों पर चीन जैसे विरोधी देश से भी परदे के पीछे बात कर सकता है।
 
श्रावण या सावन भगवान शिव का सबसे प्रिय माह है। भगवान शिव को अभिषेक बहुत प्रिय है और ऐसा प्रतीत होता है कि प्रकृति ने इस माह में वर्षा का विधान शिव-अभिषेक के लिए ही किया है।
 
सरहद के झगड़े आसानी से नहीं सुलझते। एक-एक इंच जमीन पर अपने दावे के लिए मुल्क दशकों और सदियों तक आपस में लड़ते-झगड़ते हैं और कई बार तो उनमें जंग तक छिड़ जाती है।
 
जीने की राह
दोस्ती की चुंबक है आपके पास!
क्या जीवन में बहुत सारे दोस्त चाहते हैं? मेरा मतलब है सच्चे दोस्त...जो आपके साथ हंसें और रोएं। मेरे करीबी दोस्त, मेरी दुनिया हैं। मुझे जब भी उनकी जरूरत होती है, वे मेरे साथ होते हैं। उनकी तरक्की में मुझे खुशी होती है और जब वे दुखी होते हैं तो उनकी मदद के लिए तैयार रहती हूं। वे हैं तो मैं खुश हूं और जिंदगी खुशहाल।
 
करंट अफेयर्स
किराये की कोख बढ़ता कारोबार घपले हजार
पिछले कुछ समय में सरोगेसी का कारोबार तेजी से फैला है। दुनिया भर से जोड़े भारत में कुकुरमुत्ते की तरह उगते आईवीएफ क्लिनिक्स में आते हैं, जहां किराये की कोख उपलब्ध होती हैं और वे उन्हीं के जरिये अपने बच्चों को जन्म देते हैं।
 
तरक्की
अभिषेक प्रिय शिव का माह
श्रावण या सावन भगवान शिव का सबसे प्रिय माह है। भगवान शिव को अभिषेक बहुत प्रिय है और ऐसा प्रतीत होता है कि प्रकृति ने इस माह में वर्षा का विधान शिव-अभिषेक के लिए ही किया है।
 
करियर
करियर के रनवे पर दौड़ने से पहले...
पिछले वर्ष लेबर ब्यूरो सर्वे की एक रिपोर्ट के अनुसार देश में 8.7 प्रतिशत ग्रेजुएट बेरोजगार हैं। जबकि उद्योगों की नजर में कोर्स कर निकलने वाले महज 25 प्रतिशत युवा ही रोजगार देने के काबिल हैं।
 
हेल्थ
नहीं रहेगी खिच खिच
वॉयस ओवर आर्टिस्ट रेवती पिछले कई दिनों से परेशान हैं। गले में रहने वाली खराश और दर्द का असर उनकी आवाज पर भी पड़ रहा है। रेवती की चिंता जायज है, क्योंकि उनके करियर का आधार ही उनकी आवाज है।
 
आज का मौसम
अपना शहर चुने  
मंगलवार, 04 अगस्त, 2015
41°
अधिकतम 
 |  33°
न्यूनतम